ये है मां बगलामुखी का चमत्कारी मंत्र

माँ बगलामुखी पूरे ब्रह्मांड की दस महा विद्याओं में से एक है। दस महा विद्याओं में आठवीं महाविद्या हैं। इनको पीतांबरा भी कहा जाता है। माँ बगलामुखी एक मात्र ऐसी देवी हैं जिनके मुकुट पर अर्ध चन्द्र और ललाट में तीसरा नेत्र है। सनातन धर्म के शास्त्रों में बताया गया है की महाशक्ति देवी की उपासन से

 

इस संसार की प्रत्येक दुर्लभ वस्तु प्राप्त की जा सकती है।

मां बगलामुखी इस ब्रहमांड की स्तम्भन की शक्ति है. इनकी पूजा से दुश्मनों पर विजय प्राप्त की जा सकती है. खासतौर पर वो लोग मां बगलामुखी की पूजा करते हैं जिनके कोर्ट-कचहरी के मामले फसे हुए हैं. मां बगलामुखी की पूजा-हवन से संसार सभी परेशानियों से मुक्ति पाई जा सकती है।

 

चमत्कारी मंत्र

ऊं ह्ललीं बगलामुखी सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तम्भय, जिह्वां कीलय कीलय बुद्धिं विनाशय ह्ललीं ऊं स्वाहा

 

इस मंत्र का जप करने से आप के ऊपर अचानक से कोई परेशानी नहीं आ सकती ना ही कभी आपको हार का सामना करना पड़ेगा. इस मंत्र का जाप करने वालों की कभी भी कोई कोशिश बेकार नहीं जाती और उनको बहुत ही जल्दी सफलता मिलती है। इस मंत्र का जाप करने से कोर्ट में फंसे मामले भी बहुत जल्दी सुलझ जाते हैं। इस मंत्र का जाप करने से आपके दुश्मन कभी आपको परेशान नहीं कर सकते।

Facebook Comments